HeadlinesWest Bengal

4 घंटे में पहुंच सकेंगे हावड़ा से रांची, 6 से 8 घंटे की दूरी को किया जायेगा कम

भारतीय रेलवे बोर्ड की देश भर के विभिन्न रेलवे क्षेत्रों में ऐसी हाई स्पीड ट्रेनें चलाने की योजना है। रेलवे की विभिन्नफैक्ट्रियों में ऐसे 56 रैक बनाने का काम पहले से ही चल रहा है। इनमें से एक रैक हावड़ा-रांची मार्ग के लिए आवंटितकिया गया है।

पश्चिम बंगाल ब्यूरो : कैसा होगा जब हावड़ा से सुबह ट्रेन में बैठें और करीब 4 घंटे के अंदर आप रांची पहुंच जाएं औरफिर उसी दिन रात में आप वापस लौट आएं। इन दोनों शहरों के बीच की दूरी 400 किमी है। जिन लोगों को अभी चलरही इंटरसिटी या शताब्दी एक्सप्रेस में दो शहरों के बीच यात्रा करने का अनुभव है, वे जानते हैं कि कम से कम 6 घंटे पहलेइस दूरी को कवर करना असंभव है। लेकिन यह असंभव प्रतीत होने वाला कार्य संभव होगा यदि यात्रियों को परिवहन केलिए 130 किमी प्रति घंटे से अधिक की गति वाली सेमीहाईस्पीड ट्रेन का उपयोग किया जाए।

भारतीय रेलवे बोर्ड की देश भर के विभिन्न रेलवे क्षेत्रों में ऐसी हाई स्पीड ट्रेनें चलाने की योजना है। रेलवे की विभिन्नफैक्ट्रियों में ऐसे 56 रैक बनाने का काम पहले से ही चल रहा है। इनमें से एक रैक हावड़ारांची मार्ग के लिए आवंटितकिया गया है।

पूर्व रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी एकलव्य चक्रवर्ती ने कहा कि कोरोना संक्रमण में वृद्धि के बाद, जब यात्री परिवहननिचले स्तर पर चला गया, तो भारतीय रेलवे ने राजस्व बढ़ाने के लिए माल परिवहन करके अपने व्यवसाय का विस्तारकरने की पहल की। अगला कदम सेमीहाईस्पीड ट्रेन चलाना है।

भारतीय रेलवे के अधिकारियों के अनुसार, ट्रेनें पूर्वी भारत के सबसे बड़े शहर और वाणिज्यिक केंद्र कोलकाता और रांचीके बीच संचार का सबसे तेज़ साधन हैं, जो विभिन्न के लिए प्रमुख केंद्रों में से एक है। वहीं 400 किमी के इस सफर कोकरीब 8 घंटे तक लग जाते हैं। भारतीय रेलवे चाहती है कि इस समय को घटा कर मात्र 4 घंटे ही कर दिया जाये। ऐसीयोजना विभिन्न व्यापारिक संगठनों को ध्यान में रखकर बनाई गई है। ट्रैक पर बहुत तेज गति से काम किया जा रहा है।इसमें एक विशेष प्रकार की स्टील ट्रैक शीट आदि तैयार की जा रही है। 

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करेंऔर हमें Twitter और YouTube पर फॉलो करें)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button