DelhiHeadlinesPoliticsTrending

पीएम मोदी की अपील बेकार, हंगामे ने कर दिया लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित

संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हो गया है इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने विपक्षी दलों से संसद में शांति के साथ सवाल पूछने की अपील की है

संसद का शीतकालीन सत्र : पीएम मोदी की अपील बेकार, हंगामे ने कर दिया लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही स्थगित

प्रीति कुमारी की रिपोर्ट लखनऊ: संसद का शीतकालीन सत्र शुरू हो गया है इस बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने विपक्षी दलों से संसद में शांति के साथ सवाल पूछने की अपील की है, उन्होंने कहा कि सरकार किसी भी मुद्दे पर चर्चा करने के लिए पूरी तरह से तैयार है हमें देश हित के मुद्दे पर समझदारी और एकता के साथ बात करने की जरूरत है, और यह एक अहम अवसर है जब हमें रचनात्मक चर्चा करके देश हित में आगे बढ़ना चाहिए। संसद में सरकार और उसकी नीतियों के खिलाफ आवाज प्रखर होनी चाहिए लेकिन संसद और चेयर की गरिमा भी बनाए रखनी चाहिए।

इस बीच कांग्रेस ने संसद सत्र से पहले विपक्षी दलों की बैठक बुलाकर रणनीति तैयार की, हालांकि इस मीटिंग से आम आदमी पार्टी और तृणमूल कांग्रेस ने काफी दूरी बना ली है। वहीं कांग्रेस का संसद में गांधी प्रतिमा के बाहर प्रदर्शन चल रहा है, चल रहे इस प्रदर्शन में कांग्रेस नेताओं की ओर से एमएसपी की गारंटी के लिए अलग से कानून बनाए जाने की मांग की जा रही है। संसद में शुरू शीत सत्र में कृषि कानून निरसन विधेयक के अलावा अन्य 26 बिल भी सरकार के एजेंडे में है यही वजह है कि भाजपा और विपक्ष ने अपने-अपने सांसदों को उपस्थित होने के लिए व्हिप जारी किया है।

कृषि कानूनों की चर्चा पर अड़ा विपक्ष

लोकसभा के बाद अब राज्यसभा की कार्यवाही भी दोपहर 12:19 मिनट तक के लिए स्थगित हो गई, सदन में विपक्षी सांसद तीनों कृषि कानूनों की वापसी को लेकर चर्चा की मांग कर रहे वहीं सरकार का कहना है कि जब कानून ही वापस लिए जा रहे हैं तो फिर चर्चा की क्या जरूरत है।

संसद के बाहर कांग्रेस का प्रदर्शन, राहुल भी शामिल

कांग्रेसी सांसदों ने संसद सत्र के पहले दिन किसानों की मांग सहित विभिन्न मुद्दों पर परिसर में प्रदर्शन किया, इसमें कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी और राहुल गांधी भी शामिल रहे।

कांग्रेस की बैठक में 11 पार्टियां शामिल

आपको बता दें संसद के शीतकालीन सत्र की शुरुआत से ठीक पहले आज कांग्रेस की अगुवाई में विपक्षी दलों की बैठक हुई इस बैठक में कुल 11 राजनीतिक दल शामिल हुए, हालांकि ममता बनर्जी की टीएमसी और अरविंद केजरीवाल के आम आदमी पार्टी इस बैठक का हिस्सा नहीं थे, बता दे बैठक में शिरकत करने वाले दलों में कांग्रेस के अलावा डीएमके, एनसीपी, सीपीएम, सीपीआई, आरजेडी, आईयूएमएल, एलजीडी, नेशनल कॉन्फ्रेंस, एमडीएमके और आरएसपी शामिल थे।

23 दिसंबर तक चलेगा शीतकालीन सत्र

सत्तारूढ़ भाजपा और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने अपने सांसदों को उस दिन उपस्थित रहने के लिए व्हिप जारी किया है। इस बीच संसद सत्र की पूर्व संध्या पर दलों के 42 सांसदों ने सर्वदलीय बैठक में भाग लिया, हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बैठक में शामिल नहीं हुए, बता दे महीने भर चलने वाले इस सत्र में 26 विधायकों को संसद में पेश करने के लिए सूचीबद्ध किया जाएगा संसद का शीतकालीन सत्र 29 नवंबर से 23 दिसंबर के बीच चलेगा।

लोकसभा में पेश होगा कृषि कानून का वापसी बिल

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने पहली बार लोकसभा में कृषि कानून निरसन विधेयक 2021 पेश करेंगे भले ही सरकार ने 3 कृषि कानूनों को निरस्त करने का फैसला किया है लेकिन संसद का सत्र किसानों की फसलों के लिए न्यूनतम समर्थन मूल्य एमएसपी पर कानून की मांग को लेकर हंगामेदार रहने की उम्मीद है। बता दे विपक्षी दल पहले ही किसानों की मांग का समर्थन कर चुके हैं और इस मुद्दे पर सरकार को घेरने की कोशिश भी जोरों से कर रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button