HeadlinesUttrakhand

मंगल का तुला में प्रवेश 21 अक्टूबर से, कराएगा भूमि-संपत्ति की प्राप्ति

Mars transit in Libra: कहीं कहीं तेज शीत का प्रभाव दिखाई देगा। इसके साथ ही उत्तर-पूर्वी, पश्चिमी देशों से टकराव, मतभेद, राजनीतिक उथल-पुथल दिखाई दे सकती है।

उत्तराखंड ब्यूरो : शौर्य, साहस, बल, पराक्रम, सैन्य शक्ति, भूमि, भवन, संपत्ति का स्वामी मंगल 21 अक्टूबर 2021 गुरुवार को रात्रि में2 बजे से तुला राशि में प्रवेश करेगा। मंगल 4 दिसंबर तक इसी राशि में रहेगा। इससे पहले सूर्य ने 18 अक्टूबर को तुला राशि में प्रवेशकर लिया है। इस प्रकार अग्नि तत्व के प्रतीक दोनों ग्रहों की युति तुला राशि में हो गई है। यह संयोग सभी राशि के जातकों को प्रभावितकरेगा। विशेषकर मंगल की राशियों मेषवृश्चिक, सूर्य की राशि सिंह और तुला राशि के जातकों पर इसका अधिक प्रभाव होगा।

मंगल और सूर्य की तुला राशि में युति से प्रकृति, पर्यावरण और मौसम पर विशेष प्रभाव होने वाला है। प्रकृति में अचानक बदलाव होंगे।उत्तरपूर्वी देशों में प्राकृतिक प्रकोप, कहीं अचानक तेज बारिश, बर्फ के तूफान हो सकते हैं। कहीं कहीं तेज शीत का प्रभाव दिखाईदेगा। इसके साथ ही उत्तरपूर्वी, पश्चिमी देशों से टकराव, मतभेद, राजनीतिक उथलपुथल दिखाई दे सकती है।

मंगल भूमि, संपत्ति का कारक ग्रह है और तुला राशि शुक्र के आधिपत्य वाली राशि है। शुक्र भोग विलास, सुखसमृद्धि आदि काप्रतिनिधि ग्रह है। इसलिए शुक्र की राशि में मंगल के जाने से लोगों की समृद्धि में वृद्धि होने वाली है। लोगों की क्रय क्षमता बढ़ेगी। भूमि, संपत्ति खरीदेंगे। कारोबारियों को लाभ होगा। सोनाचांदी के भाव बढ़ेंगे लेकिन साथ ही लोगों की इन्हें खरीदने की क्षमता में भी बढ़ोतरीहोगी।

मंगल के तुला में गोचर के दौरान उन लोगों को विशेष लाभ होगा जिन्में गोचर में मंगल की महादशाअंतर्दशा चल रही है। जिनकी कुंडलीमें मंगल जन्मकालीन वक्री हो उन्हें सतर्क रहने की आवश्यकता है।

  • मेष : मानसम्मान, पराक्रम, बल में वृद्धि होगी। आत्मविश्वास चरम पर रहेगा। परिवार का सहयोग प्राप्त रहेगा। आर्थिक सुख।
  • वृषभ : स्वास्थ्य गड़बड़ाएगा, तनाव महसूस होगा। आर्थिक स्थिति डांवाडोल रहेगी। संपत्ति में निवेश करने से बचें।
  • मिथुन : भाग्य प्रबल होगा, धार्मिक यात्राएं होंगी, बलपराक्रम बढ़ेगा। भूमिभवन खरीदीबिक्री के कार्य होंगे।
  • कर्क : मानसिक तनाव, जीवनसाथी को चोट लग सकती है। निवेश करने से बचें। स्वास्थ्य खराब रहेगा। सुखों में कमी।
  • सिंह : पराक्रम में वृद्धि, आर्थिक संकट दूर होंगे। परिवार का सहयोग रहेगा। संपत्ति खरीदने के योग हैं। आभूषण खरीदेंगे।
  • कन्या : वाणी और क्रोध पर संयम रखें, भाईबहनों से विवाद संभव है। पेट संबंधी रोग। कार्यक्षेत्र में ठहराव महसूस करेंगे।
  • तुला : मित्रों का सहयोग रहेगा। माता के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। कार्यक्षेत्र में तनाव, आर्थिक हानि, जीवनसाथी को कष्ट।
  • वृश्चिक : अनावश्यक कार्यो में धन समय नष्ट होगा। पैसों की कमी रहेगी, कार्यक्षेत्र में तनाव, विरोध गतिरोध बढ़ेगा।
  • धनु : भाग्योदय होगा। भूमि, संपत्ति क्रय करेंगे। पैतृक धन मिलेगा। कार्यक्षेत्र में वृद्धि। स्वास्थ्य में सुधार आएगा।
  • मकर : भूमि, भवन क्रय करेंगे। निवेश से लाभ होगा, संकट दूर होंगे। प्रेम संबंधों में तनाव होगा। मित्रों का सहयोग रहेगा।
  • कुंभ : भाग्य प्रबल होगा। संपत्ति क्रयविक्रय के काम में लाभ, मित्रों से विवाद, जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी।
  • मीन : भाग्योदय का समय, मित्रों का सहयोग, प्रेम संबंधों में मजबूती, वाहन संभलकर चलाएं, भूमिसंपत्ति क्रय करेंगे।

क्या उपाय करें

मंगल के तुला में गोचर के दौरान सभी राशि के जातक लाल मूंगे की माला धारण करें, मूंगे के बने गणपति का पेंडेंट गले में धारण करें।प्रत्येक मंगलवार को हनुमान मंदिर में दर्शन करें और श्रीफल अर्पित करें। घर में मंगल यंत्र स्थापित करके नित्य दशर्नपूजन करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button