DelhiHeadlines

प्रवासी गुजराती पर्व में बोले- अमित शाह जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण, देश से ये तीन नासूर खत्म किए

अमित शाह ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव देश मना रहा है. आजादी के शताब्दी वर्ष को अमृत काल की तरह मनाने का संकल्प लें.

प्रवासी गुजराती पर्व में बोले- अमित शाह जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टीकरण, देश से ये तीन नासूर खत्म किए

अमित शाह ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव देश मना रहा है. आजादी के शताब्दी वर्ष को अमृत काल की तरह मनाने का संकल्प लें.

कृतिका कुमारी की रिपोर्ट, दिल्ली: अहमदाबाद में आज शनिवार से तीन दिवसीय प्रवासी गुजराती पर्व- 2022 का आगाज हो गया है. एसोसिएशन ऑफ इंडियन अमेरिकन्स इन नॉर्थ अमेरिका (एआईएएनए), गुजराती उद्यम और गौरव का जश्न मनाने के लिए इस कार्यक्रम की मेजबानी कर रहे हैं. इस कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह बतौर अतिथि शामिल हुए हैं. इस मौके पर अमित शाह ने कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव देश मना रहा है. आजादी के शताब्दी वर्ष को अमृत काल की तरह मनाने का संकल्प लें.

और पढ़े: असम में मृत मिला छात्र, सीएम बोले ‘बहुत दुख हुआ’

अमित शाह ने कहा कि लोगों को इस काल में राशन मिले इसका काम बीजेपी की मोदी सरकार ने किया. लोकतंत्र के अंदर प्रतिभाओं को मंच पीएम मोदी ने मुहैया कराया है. तीन नासूर… जातिवाद, परिवारवाद और तुष्टिकरण से देश को मोदी जी ने मुक्ति दिलाई है. केंद्रीय गृह मंत्री ने कहा कि गुजरात में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति सुधरी है. पहले पोरबंदर जिले में कानून व्यवस्था की बुरी हालत थी.साल में कई दिनों तक कर्फ्यू रहता था.बॉर्डर से लगा हुआ राज्य था तो गुजरात में स्मगलिंग आम हो गई थी.लेकिन अब मैं बताना चाहूंगा कि 20 साल से गुजरात में मोदी के नेतृत्व में कर्फ्यू नहीं लगा है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: