DelhiHeadlines

दिल्ली में आज से केवल सीएनजी और इलेक्ट्रिक वाहनों का प्रवेश

प्रदूषण के कारण से पिछले कई दिनों से दिल्ली की हालात काफी खराब है। दिल्ली और केंद्र सरकार ने प्रदूषण को कम करने के लिए कई अहम कदम उठाए हैं

दिल्ली में आज से केवल सीएनजी और इलेक्ट्रिक वाहनों का प्रवेश

ज्योति कुमारी की रिपोर्ट दिल्ली: पिछले कई दिनों से प्रदुषण ने दिल्ली के नाक में दम कर रखा है। प्रदूषण के कारण से पिछले कई दिनों से दिल्ली की हालात काफी खराब है। दिल्ली और केंद्र सरकार ने प्रदूषण को कम करने के लिए कई अहम कदम उठाए हैं।लेकिन पूरी तरह से प्रदुषण से राहत नहीं मिली है। ऐसे में प्रदुषण को कम करने के लिए दिल्ली सरकार ने राजधानी में एक हफ्ते के लिए पेट्रोल और डीजल इंजन कारें को एंट्री बैन कर दिया है। यह बैन 27 नवंबर से 3 दिसंबर तक लागू किया जाएगा। राजधानी दिल्ली में प्रदूषण का स्तर सुधरने के लिए समीक्षा बैठक की गयी जिसमें कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं। दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने एक समीक्षा बैठक के बाद घोषणा की थी कि, ’27 नवंबर से, केवल सीएनजी से चलने वाले और इलेक्ट्रिक वाहनों को राष्ट्रीय राजधानी में प्रवेश की अनुमति होगी। अन्य सभी वाहनों पर 3 दिसंबर तक प्रतिबंध रहेगा।

इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने भी सरकार को प्रदुषण के मामले में फटकार लगाई थी।

दिल्ली सरकार ने 29 नवंबर से स्कूलों, कॉलेजों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों में कक्षाएं और सरकारी कार्यालयों काम को फिर से शुरू करने का फ़ैसला किया है। आवश्यक सेवाओं में लगी गाड़ियों को छोड़कर ट्रकों के प्रवेश पर प्रतिबंध 3 दिसंबर तक जारी रहेगा। लेकिन “सीएनजी और इलेक्ट्रिक ट्रकों को 27 नवंबर से दिल्ली में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी।”
आज भी राजधानी दिल्ली में प्रदूषण का स्तर बहुत ख़राब श्रेणी में बना हुआ है। वायु गुणवत्ता और मौसम पूर्वानुमान और अनुसंधान प्रणाली (SAFAR) के अनुसार राजधानी दिल्ली में हवा की गुणवत्ता खराब स्थिति में बनी हुई है। राजधानी में AQI स्तर 386 है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button