HeadlinesJharkhandPolitics

बिजली संकट का हल निकालेंगे चाहे कितनी भी महंगी खरीदनी पड़े: हेमंत सोरेन

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्य में बिजली संकट के मद्देनजर समस्या के समाधान की दिशा में पहल करने का भरोसा दिलाया है

बिजली संकट का हल निकालेंगे चाहे कितनी भी महंगी खरीदनी पड़े: हेमंत सोरेन

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्य में बिजली संकट के मद्देनजर समस्या के समाधान की दिशा में पहल करने का भरोसा दिलाया है।

जुली कुमारी की रिपोर्ट,रांची: मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने राज्य में बिजली संकट के मद्देनजर समस्या के समाधान की दिशा में पहल करने का भरोसा दिलाया है। उन्होंने कैबिनेट की बैठक समाप्त होने के बाद मंगलवार को प्रोजेक्ट भवन मंत्रालय में कहा कि बिजली की समस्या फिलहाल पूरे देश में है। बाजार से बिजली की खरीद नहीं कर पाने के कारण यह समस्या पैदा हुई है। राज्य सरकार ने ऊर्जा विभाग को इसके लिए अतिरिक्त राशि उपलब्ध करा ने दी है ताकि विभाग इंडियन इनर्जी एक्सचेंज से ऊंची दर पर भी बीडिंग कर बिजली की खरीद करे। राज्य में बिजली की समस्या का समाधान करना सरकार का उद्देश्य है। सरकार ने लोगों की सहूलियत को देखते हुए 20 रुपये प्रति यूनिट की दर पर भी बिजली खरीद कर उपभोक्ताओं तक पहुंचाई है। अभी 12 रुपये प्रति यूनिट की दर पर बिजली खरीदने की बात सामने आ रही है।

और देखें: बीजेपी ने बिजली की समस्या के लिए किया हाहकार प्रदर्शन निकाली रैली II Asia News India II BJP

मुख्यमंत्री ने कहा कि भीषण गर्मी में बिजली की मांग में लगातार बदलाव देखा जा रहा है। कभी रात के वक्त अचानक मांग बहुत बढ़ जाती है तो कभी दिन में भी मांग में इजाफा देखा जा रहा है। कभी ऐसा है, भी होता है कि बिजली खरीदी जाती है, लेकिन उसका उपयोग नहीं हो पाता। उसे सरेंडर करने की जरूरत का पड़ जाती है। बिजली की खरीद बैठ और उपयोग में संतुलन बनाने की भी आवश्यकता है ताकि पैसे का सदुपयोग किया जा सके। विभाग को निर्देश दिया गया है कि राज्य में पूरी बिजली की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। इस दिशा में काम भी शुरू कर दिया गया है। अब समस्या का समाधान होने की पूरी उम्मीद है। मौजूदा समय में गर्मी कहर बरपा रही है।

कोई भी चीज अचानक सामने आती है तो कई समस्या उत्पन्न होती है। कोरोना के कारण देश ही नहीं,पूरी दुनिया अस्त-व्यस्त हो गई। चाहे कितनी तैयारी कर लें, अचानक कभी-कभी ऐसी स्थिति उत्पन्न होती है, जिससे समस्या खड़ी हो जाती है। बिजली की समस्या पर उनकी नजर बनी हुई है। यह समस्या देश के अन्य राज्यों में है। तकनीकी पहलू की बात करें तो बिजली उत्पादन करने वाली मशीन वर्तमान वातावरण में बहुत लोड लेकर चल नहीं पा रही है। मशीनों को भी आराम देने की जरूरत पड़ती है। ऐसे में प्लांट के साथ जबरदस्ती करने पर अधिक समस्या उत्पन्न हो सकती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button