DelhiHeadlines

पेट्रोल और डीजल की जगह ग्रीन हाइड्रोजन

प्रदुषण और लगतार बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दाम सरकार के पास चुनौती है कि वह प्रदुषण को कम करे साथ ही लगातार बढ़ती महंगाई को भी

पेट्रोल और डीजल की जगह ग्रीन हाइड्रोजन

ज्योति कुमारी की रिपोर्ट दिल्ली: बढ़ता प्रदुषण और लगतार बढ़ते पेट्रोल और डीजल के दाम ने जनता को मुश्किल में डाल रखा है। सरकार के पास चुनौती है कि वह प्रदुषण को कम करे साथ ही लगातार बढ़ती महंगाई को भी। भारत ईंधन को लेकर आत्मनिर्भर बनाने की कोशिशों में है। इसी कड़ी में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि मैं कोशिश कर रहा हूं कि हम गंदे पानी से ग्रीन हाइड्रोजन तैयार करें और शहर की बस, ट्रक, कार ग्रीन हाइड्रोजन पर चले।

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी का दावा है कि वह जल्द ही दिल्ली की सड़कों पर ग्रीन हाइड्रोजन से चलने वाली कार को दौड़ाने वाले हैं।जिसके लिए उन्होंने पायलट प्रोजेक्ट के तहत कार खरीदी है जो ग्रीन हाइड्रोजन पर चलेगी। ग्रीन हाइड्रोजन फरीदाबाद में एक तेल अनुसंधान संस्थान में उत्पादित है। उन्होंने कहा कि वह दिल्ली में उस कार को चलाएंगे ताकि लोगों को विश्वास हो कि पानी से ग्रीन हाइड्रोजन प्राप्त करना संभव है।

केंद्रीय परिवहन मंत्री नितिन गडकरी महंगे पेट्रोल-डीजल पर निर्भरता कम करने के लगातार प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने पेट्रोल-डीजल पर निर्भरता कम करने को लेकर पहले भी कई कदम उठाये हैं। गडकरी ने पिछले दिनों बायो-एथेनॉल पर आधारित कारों के ईंधन पर बनाने को लेकर बयान दिया था।

देशभर में पेट्रोलियम पदार्थों के बढ़ते मांग को देखते हुए ईंधन के रूप में बायो-एथेनॉल पर जोर देने का फैसला लिया। नितिन गडकरी ने कहा कि जल्द ही हम लोग पेट्रोल पंप पर एथेनॉल की सुविधा भी उपलब्ध कराएंंगे जो पेट्रोल और डीजल से कम दाम पर उपलब्ध होगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: