BiharHeadlines

कोलकाता की इवेंट एंकर के साथ पटना में गैंगरेप, मुंह खोलने पर जान से मारनेकी धमकी का आरोप

गांधी मैदान थाना प्रभारी रणजीत वत्स ने बताया कि दोनों आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए अबतक तीन बार अलग-अलग ठिकानों पर छापेमारी की गई है। गहन जांच की जा रही है। पुलिस ने फरार दोनों आरोपितों के खिलाफ कोर्ट से गिरफ्तारी वारंट ले लिया है। दोनों का मोबाइल बंद है। गिरफ्तारी नहीं होने पर कोर्ट से आदेश प्राप्त कर दोनों आरोपितों की संपत्ति की कुर्की जब्ती की जाएगी।

बिहार ब्यूरो : बिहार की राजधानी पटना में एक हाईप्रोफाइल लड़की के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। पटना केनामचीन होटल के कमरा नंबर 512 में इस वारदात को अंजाम दिया गया। 2 जुलाई को मुजफ्फरपुर के हर्ष रंजन और उसका मित्रविक्रांत केजरीवाल कोलकाता की इवेंट एंकर के साथ होटल में गैंगरेप किया तीन जुलाई को होटल से पटना जंक्शन छोड़ने के दौरानपीड़िता को गर्भनिरोधक गोलियां खिलाई। पीड़िता ने कहा कि दोनों युवकों ने इस बारे में किसी को बताने पर जान से मारने की धमकीभी दी।  

3 जुलाई को पटना जंक्शन से ट्रेन पकड़कर पीड़िता हावड़ा पहुंची और 4 जुलाई को जाधवपुर थाना में दोनों आरोपी के खिलाफ जीरोएफआईआर दर्ज करवाई। एफआईआर दर्ज होने के बाद बंगाल पुलिस ने केस को पटना के गांधी मैदान थाना को ट्रांसफर कर दिया है। 

गैंगरेप की शिकार हुई महिला एंकर का आरोप है कि पटना में रहकर इंटरटेनमेंट कंपनी चलाने वाले मुजफ्फरपुर के हर्ष और विक्रांतकेजरीवाल ने उसके साथ दरिंदगी की। होटल में एक इवेंट कराने के लिए हर्ष से उसकी 40 हजार में डील तय हुई थी। एडवांस में कुछनहीं मिला था। कोलकाता से पटना आने जाने के लिए हर्ष ने उसके खाते में गूगल पे के जरिए दो हजार रुपये भेजे थे। 2/3 जुलाई कीरात करीब 1 बजे पेमेंट देने के बहाने हर्ष ने कमरा खुलवाया। उनके पीछे विक्रांत केजरीवाल भी कमरे में घुस गया। पहले दोनों पेमेंट देनेकी बात कहकर उसे बातों में उलझाया। बाद में विक्रांत ने अंदर से कमरा बंद कर दिया और मोबाइल पर जोरजोर से गाना बजाने लगे। 

महीनों बाद भी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं दोनों आरोपी

वहीं, गांधी मैदान थाना की एसआई अर्चना ने पीड़िता से फोन पर बात कर उसका बयान दर्ज किया है। 17 जुलाई को बयान दर्ज करानेके बाद पीड़िता 29 जुलाई को कोलकाता से पटना पहुंची और कोर्ट में उसकी पेशी हुई। पीड़िता ने कोर्ट में अपने साथ सामूहिक दुष्कर्महोने का बयान दर्ज करवाया। गांधी मैदान थानेदार का दावा है कि आरोपियों की गिरफ्तारी पुलिस जल्द कर लेगी। पुलिस की एक टीमआरोपियों को पकड़ने के लिए मुजफ्फरपुर भी गई, लेकिन दोनों फरार हैं। सबसे बड़ा सवाल है कि आखिर दो महीने बीत जाने के बादभी पुलिस खाली हाथ है और आरोपी आजाद है। इस घटना के बाद से दोनों आरोपियों का मोबाइल भी बंद है। फिलहाल पुलिस कादावा है कि होटल प्रबंधन से भी पूछताछ की जा रही है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: