HeadlinesWest Bengal

चांदी की तस्करी नाकाम, 3.502 Kg चांदी के साथ BSF ने 02 तस्करों को दबोचा

15 अक्टूबर, 2021, ख़ुफ़िया विभाग की सूचना के आधार पर कार्यवाही करते हुए 112 वीं बटालियन की सीमा चौकीहाकिमपुर, के जवानों ने विशेष तलाशी अभियान चलाया

तीर्थंकर मुखर्जी, कोलकाता : 15 अक्टूबर को  दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के अंतर्गत सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने तस्करोंके मंसूबों को नाकाम करते हुए 3.502 किलो ग्राम चांदी के आभूषण के साथ 02 तस्करों को धर दबोचा। जब्त की गईचांदी की अनुमानित कीमत 1,77,341/-  रुपए हैं जिसे उत्तर 24 परगना जिले के सीमा चौकी हाकिमपुर क्षेत्र से तस्करीके माध्यम से भारत से बांग्लादेश ले जाया जा रहा था।

15 अक्टूबर, 2021, ख़ुफ़िया विभाग की सूचना के आधार पर कार्यवाही करते हुए  112 वीं बटालियन की सीमा चौकीहाकिमपुर,  के जवानों ने विशेष तलाशी अभियान चलाया।  लगभग 1900 बजे जवानों ने एक स्कूटी पर दो संदिग्धव्यक्तियों को आते देखा जो बिठारी बाजार से तराली गांव की तरफ जा रहे थे, चूंकि खबर पुख्ता थी कि स्कूटी मेंस्मगलिंग का सामान रहा है इसलिए जैसे ही जवानों ने  स्कूटी सवार को रोकना चाहा वैसे ही वे लोग स्कूटी छोड़  भागने लगे, चुस्त और चौकस जवानों ने बिना कोई मौका गवाये स्कूटी चालक तथा दूसरे सवार को धर दबोचा तलाशीलेने पर स्कूटी के फ्रंट हेड के कैविटी से 03 पैकेट चांदी के आभूषण बरामद हुए जिसका कुल वजन 3.502 किलो ग्रामतथा अनुमानित कीमत 1, 77341/- रुपये आंकी गई हैं। बी एस एफ जवानों ने चांदी के आभूषणों को जब्त कर लियातथा दोनों तस्कर को भी पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया

प्रारंभिक पूछताछ के दौरान पकड़े गए तस्कर की पहचान वाहिद मंडल,  उम्र 23 वर्ष, तथा  अरीफुल सरदार, उम्र – 15 वर्ष, गांव पोस्ट ऑफिसबिठारी , थानास्वरूपनगर, जिलाउत्तर 24 परगना के रूप में हुई है।

प्रारंभिक पूछताछ में पकड़े गए दोनों तस्कर वाहिद मंडल तथा अरीफुल सरदार ने बताया कि वे भारतीय नागरिक है, तथापिछले कुछ समय से *तस्कर वाहक*(कोरियर) के रूप में कार्य कर रहें  है। आगे उन्होंने बताया कि आज (15 अक्टूबर ) सुबह उन्होंने इस चांदी के आभूषण को दत्तापरा, बिठारी निवासी फारूक गाज़ी से लिया था तथा बीएसएफ ड्यूटी लाइनक्रॉस कर वापस फारूक गाज़ी  को ही देना था   इसके लिए उसने चांदी के आभूषणों को स्कूटी में छुपा कर तराली कीतरफ जा रहा था, लेकिन जैसे ही वह हाकिमपुर चेक पोस्ट के पास पहुंचा बीएसएफ ने उसे 03 पैकेट चांदी के साथ पकड़लिया। आगे वाहिद मंडल ने बताया कि इसके लिए उसे फारूक गाज़ी से 1000/- रुपये मिलते जिसमें से 300 /- रुपयेअरीफुल सरदार को मिलता।

जब्त चांदी के आभूषण को आगे की कानूनी कार्यवाही के लिए संबंधित कस्टम कार्यालय तेन्तुलिया को सौंप दिया गया है|

जन संपर्क अधिकारी, दक्षिण बंगाल फ्रंटियर ने 112 वीं वाहिनी  के जवानों की उपलब्धि पर खुशी जाहिर की। उन्होंनेबताया कि उनके इलाके में तस्कर नित नए तरीके अपना कर तस्करी का प्रयास करते हैं। उन्होंने बताया कि तस्करी कोरोकने के लिए उन्होंने बटालियन के इलाके के पुलिस अधिकारियों तथा अन्य एजेंसियों से भी तस्करी को खत्म करने तथातस्करी में शामिल लोगों को कठोर दंड दिलाने में सहयोग मांगा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: