CrimeHeadlines

BSF ने चांदी की तस्करी करती महिला तस्कर की योजना को किया ध्वस्त

नदीं के अन्दर से 10 लाख की चांदी जब्त | सीमान्त मुख्यालय दक्षिण बंगाल के अन्तर्गत, 112 वीं बटालियन की सीमा चौकीहाकिमपुर को खुफिया विभाग ने ऐसी खबर दी कि सोनाई नदी के अन्दर से चांदी के आभूषणों की तस्करी होगी।

तीर्थंकर मुखर्जी, कोलकाताघटना दिनांक 19 अक्टूबर 2021 की है, जब पुख्ता खबर के अनुसार कि पत्नीपाड़ा घाट पर चांदी कीभारी मात्रा में तस्करी होने वाली है। तुरन्त बीएसएफ के जवान पत्नीपाड़ा घाट पर पहुंचे, बीएसएफ जवानों ने देखा कि एक महिलानायलाॅन की रस्सी पकडे़ सोनाई नदी के बीच में खड़ी थी और बांग्लादेश की तरफ जाने की फिराक में थी। बीएसएफ को पहले हीसूचना मिल चुकी थी कि तस्करी होने वाली है इस शक को यकीन में बदलते देर नहीं लगी। जैसे ही बीएसएफ जवान नाव पर सवारहोकर नदी में महिला की तरफ बढ़ने लगे, वह महिला गहरे पानी की तरफ भागने लगी। बीएसएफ ने पीछा किया लेकिन महिला गहरेपानी मे तैर  कर बांग्लादेश की सीमा में प्रवेश कर गई। बीएसएफ ने अंतरराष्ट्रीय सीमा रेखा का उल्लघंन नहीं किया, जिसका फायदाउठाकर वह महिला भाग गई। जब बीएसएफ ने पानी में घुस कर गहनता से तलाशी ली तो उन्हें एक नायलाॅन की  रस्सी मिली जोभारत की तरफ से बांग्लादेश की तरफ बंधी हुई थी। नायलाॅन रस्सी को जब खींचा गया तो उसमें  एक प्लास्टिक का बंधा हुआ बैगमिला जिसको खोलने पर 17 पैकेट बरामद हुए जो कि ब्राउन कलर के टेप से लपेटे गये थे। जब उन पैकेटों को खोला गया तो उसमेंचांदी के आभूषण भारी मात्रा में मिले। जिनका वजन 21.8 किलोग्राम निकला। भारतीय बाजार में इन आभूषणों की कीमत10,08,533/- रुपये आंकी गई।

बीएसएफ ने पकड़े गये चांदी के आभूषणों को कस्टम आफिस तेन्तुलिया को सौंप दिया।

दक्षिण बंगाल फ्रंटियर के जन संपर्क अधिकारी ने 112 वीं बटालियन के जवानों की इस उपलब्धि पर खुशी व्यक्त की और उन्होंने कहाकि स्मगलर, चाहे स्मगलिंग करने के हर हथकंडे को अपना लें, हम उन्हें ध्वस्त करने में कामयाब होंगे।

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करेंऔर हमें Twitter और YouTube पर फॉलो करें)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button