HeadlinesJobs

एंट्रेंस एग्जाम के लिए 27 अक्टूबर को जारी होगा एडमिट कार्ड, जनवरी-2022 के दूसरे सप्ताह तक आ सकता है रिजल्ट

आईआईएम सहित अन्य प्रतिष्ठित एमबीए संस्थानों में दाखिले के लिए होने वाले कॉमन एडमिशन टेस्ट (कैट) के पैटर्न में फिलहाल कोई बदलाव नहीं किया गया है

आईआईएम सहित अन्य प्रतिष्ठित एमबीए संस्थानों में दाखिले के लिए होने वाले कॉमन एडमिशन टेस्ट (कैट) के पैटर्न में फिलहाल कोई बदलाव नहीं किया गया है। हालांकि अक्टूबर में मॉक टेस्ट पेपर्स रिलीज होने के बाद ही पैटर्न को लेकर स्थिति साफ होगी। इस साल कैट की जिम्मेदारी आईआईएम अहमदाबाद को सौंपी गई है। छात्रों को एग्जाम पैटर्न की जानकारी देने व प्रैक्टिस के लिए मॉक टेस्ट पेपर जारी किए जाते हैं। पिछले साल कैट में कुल 76 सवाल पूछे गए थे।

इनमें से 26 सवाल वीएआरसी, 26 क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूट और 26 डीआईआरएल से संबंधित थे। प्रत्येक सेक्शन में 18 सवाल एमसीक्यू और 8 सवाल नॉन एमसीक्यू आधारित थे। मॉक टेस्ट के साथ पुरानी परीक्षाओं के पेपर भी जारी कर दिए जाएंगे। कोविड की स्थितियों को देखते हुए इस साल भी कैट के एग्जाम सेंटर्स बढ़ाए जा सकते हैं। एग्जाम को लेकर गाइडलाइन परीक्षा से कुछ दिन पहले ही जारी की जाएगी। 27 अक्टूबर को कैट के एडमिट कार्ड जारी कर दिए जाएंगे। गाइडलाइन से संबंधित जानकारी एडमिट कार्ड में भी जारी की जा सकती है। एडमिट कार्ड से छात्रों को परीक्षा शहर व केंद्र का पता चल सकेगा।

इस साल कैट के लिए एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया हटाने के कारण अधिक छात्र परीक्षा दे पाएंगे। ग्रेजुएशन में 50 प्रतिशत अंकों की बाध्यता को हटाया जा चुका है। अधिक छात्रों के एग्जाम देने से स्टूडेंट्स को नॉन आईआईएम संस्थानों में एडमिशन लेने का अवसर मिलेगा। अभी सभी छात्र आईआईएम को प्राथमिकता देते हैं। इस कारण नॉन आईआईएम में छात्रों की संख्या कम रहती है।

संबंधित आईआईएम ही आयोजित करेगा जीडी व पीआई

कैट के स्कोर के बाद फाइनल सिलेक्शन के लिए छात्रों का पर्सनल इंटरव्यू और ग्रुप डिस्कशन होता है। पिछले साल काेरोना की वजह से अधिकांश आईआईएम ने ऑनलाइन इंटरव्यू कंडक्ट किए थे। जीडी और पीआई आयोजित करने का अधिकार संबंधित आईआईएम को ही रहता है। कैट का आयोजक संस्थान इसमें दखल नहीं दे सकता।

जनवरी-2022 के दूसरे सप्ताह तक रिजल्ट आने की संभावना

28 नवंबर को कैट परीक्षा होने के बाद जनवरी के दूसरे सप्ताह में परिणाम जारी किए जाने की संभावना है। इसके बाद इंटरव्यू व ग्रुप डिस्कशन होंगे। पिछले सेशन में ज्यादातर क्लासेस ऑनलाइन या ब्लेंडेड मोड में हुई। संभव है कि नए सेशन में सभी सेमेस्टर की ऑफलाइन क्लास प्रारंभ हो जाएं।

परीक्षा के लिए 400 केंद्रों में से किन्हीं छह शहरों को चुन सकते हैं स्टूडेंट्स

इस साल कैट 158 शहरों के करीब 400 केद्रों पर प्रस्तावित है। छात्र किन्हीं छह शहरों में केंद्र चुन सकते हैं। उम्मीदवारों को आवंटित परीक्षा केंद्र आवेदन पत्र में भरी गई उनकी वरीयता पर निर्भर करेगा। हर साल औसतन दो लाख छात्र इस परीक्षा में बैठते हैं जिसके आधार पर चयनितों को देश भर के आईआईएम में प्रवेश मिलता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button