HeadlinesRajasthan

राजस्थान की जयपुर में नामांतरण खोलने की एवज में 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते ACB ने पकड़ा

वह मूल रुप से कोटपूतली में ही खड़ग नारेड़ा गांव का रहने वाला है। एक स्थानीय निवासी ने एसीबी अलवर में शिकायत दर्ज करवाई थी कि देवरा गांव में उसकी पैतृक जमीन है

राजस्थान की जयपुर में नामांतरण खोलने की एवज में 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते ACB ने पकड़ा, ठिकानों पर चल रही है सर्च

वह मूल रुप से कोटपूतली में ही खड़ग नारेड़ा गांव का रहने वाला है। एक स्थानीय निवासी ने एसीबी अलवर में शिकायत दर्ज करवाई थी कि देवरा गांव में उसकी पैतृक जमीन है। इसका नामांतरण खोलने के लिए आवेदन किया था। लेकिन, पटवारी काम करने की एवज में 15 हजार रुपए रिश्वत मांग रहा है। शिकायत का सत्यापन करने के बाद शुक्रवार को ट्रेप रचा गया।

न्यूज डेस्क जयपुर : भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (ACB) की टीम ने जयपुर जिले के कोटपूतली में एक पटवारी को 15 हजार रुपए की रिश्वत लेते शुक्रवार को रंगे हाथ ट्रेप कर लिया। यह रिश्वत एक व्यक्ति से नामांतरण खोलने की एवज में मांगी गई थी। डीजी बीएल सोनी ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी रामचंद्र सैनी कोटपूतली तहसील में देवता हल्का पटवार क्षेत्र का पटवारी था।

वह मूल रुप से कोटपूतली में ही खड़ग नारेड़ा गांव का रहने वाला है। एक स्थानीय निवासी ने एसीबी अलवर में शिकायत दर्ज करवाई थी कि देवरा गांव में उसकी पैतृक जमीन है। इसका नामांतरण खोलने के लिए आवेदन किया था। लेकिन, पटवारी काम करने की एवज में 15 हजार रुपए रिश्वत मांग रहा है। शिकायत का सत्यापन करने के बाद शुक्रवार को ट्रेप रचा गया।

आपसी बातचीत के बाद शिकायतकर्ता रिश्वत लेकर पटवारी के पास ऑफिस गया। वहां रकम लेकर जेब में रख ली। तभी ईशारा मिलने पर पुलिस इंस्पेक्टर प्रेमचंद और टीम ने पटवारी रामचंद्र को ट्रेप कर रिश्वत की रकम बरामद कर ली। यह कार्रवाई एसीबी अलवर (प्रथम) के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय सिंह के नेतृत्व में की गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button