AssamHeadlines

आतंकी हमले में असम राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर और उनका परिवार शहीद

मणिपुर के सूरज चंद जिले में शनिवार को घात लगाकर हमले किए गए. इस आतंकवादी हमले में असम राइफल्स केकमांडिंग ऑफिसर और उनका परिवार शहीद हो गया.

असम ब्यूरो : मणिपुर के सूरज चंद जिले में शनिवार को घात लगाकर हमले किए गए. इस आतंकवादी हमले में असमराइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर और उनका परिवार शहीद हो गया. एस सेहकेन गांव, सिंगनगट उपखंड के पास ये हमलाकिया गया. कर्नल विप्लव त्रिपाठी (सीओ-46 एआर), उनकी पत्नी और उनके बेटे की मौके पर ही मौत हो गई और अन्यघायलों को बेहियांग प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में स्थानांतरित कर दिया गया है.

इस बीच हमले में तीन क्यूआरटी सदस्यों की भी मौत हो गई. कथित तौर पर आतंकवादियों ने सुरक्षाकर्मियों को ले जा रहेएक काफिले पर हमला किया. सेना के सूत्रों के अनुसार, काफिले में त्वरित प्रतिक्रिया दल के साथ अधिकारी के परिवारके सदस्य भी थे. हताहत होने की आशंका है. ऑपरेशन अभी भी जारी है. अधिक हताहत होने की आशंका जताई गई थी

राज्य के मुख्यमंत्री एन बीरेन सिंह ने इस घटना को कायरता की प्रतीक बताया और इसकी निंदा की है. रिपोर्ट्स केमुताबिक, घटना शनिवार सुबह करीब 10 बजे सूरज चंद जिले में म्यांमार सीमा के पास हुई. असम राइफल्स के एककाफिले पर आतंकवादियों के एक अज्ञात समूह ने घात लगाकर हमला किया.

हालांकि, इस हमले के पीछे मणिपुर की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी का हाथ बताया जा रहा है. बता दें कि मणिपुर कीपीपुल्स लिबरेशन आर्मी का गठन 1978 में किया गया था. इसे भारत सरकार ने आतंकी संगठन घोषित किया है. मणिपुरमें यह संगठन भारतीय सुरक्षाबलों पर पहले भी हमले करता रहा है. यह आतंकी संगठन स्वतंत्र मणिपुर की मांग करता रहाहै. इसका संगठन का गठन बिश्वेसर सिंह ने किया था.  

हमारी कोशिश है किआपके पास सबसे पहले जानकारी पहुंचे. इसलिए आपसे अनुरोध है कि सभी बड़े अपडेट्सजानने केलिए नीचे दीया गया लिंक के लाइक फॉलो और सब्सक्राइब कर लें.

(देश और दुनिया की खबरों के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन करें, और हमें Twitter और YouTube पर फॉलोकरें)

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
%d bloggers like this: